F Accounts with Tally 9 (Hindi): Company Creation Or Ledger Creation

21 दिसंबर 2017

Company Creation Or Ledger Creation



 अकाउंट्स में नगद भुगतान  नगद प्राप्ति  चैक देना  चैक प्राप्त करना बिक्री  करना  बिल   खरीद करना  आदि प्रकार के लेन देन के विवरण को बही खाते या कम्पयूटर में एंट्री की जाती है जिससे बैलेंस शीट बनाई जाती है  
वैसे तो वर्त्तमान में अकाउंट्स का कार्य करने के लिए कई सॉफ्टवेयर बाजार में उपलब्ध है यदि आप किसी एक सॉफ्टवेयर में इंट्री करना सीखा जाते है तो अन्य सॉफ्टवेयर में १ से २ दिनो में समझ सकते है
मैं आपको बेसिक जानकारी व्  टैली सॉफ्टवेयर में इंट्री करना सीखाने का प्रयास करूंगा 

टेली आईकॉन  पर क्लिक करे 
ओपन होने पर क्रिएट औप्सन पर क्लिक करेंगे तो ये विंडो दिखाई देगी। 
इसमें नाम के सामने कपनी या प्रतिष्ठान या अपना नाम अंकित करें 
व् एंटर प्रेस करें। 
पता देश राज्य की जानकारी भरें एंटर दबाते हुए। 
फाइनेंशियल ईयर में दिनाक  1 -4-2017  व  आगे बुक बिगनिंग में भी 1 -4-2017 टाइप करें एंटर दबाते हुए सेव करें  अब आपकी कंपनी 
बन चुकी है।    



कंपनी बनाने के बाद आपके सामने निम्न विंडो दिखाई देगी 
जिसे गेटवे ऑफ़ टैली कहते है।  इसमें बांई तरफ कंपनी  का नाम और ऊपर समयावधि दिखाए देगा और दाईं तरफ टैली का मुख्य मैन्यू  होगा।
 कपनी में  लेजर जैसे ग्राहक@ सप्लायर के नाम  बैंकखाते @  खर्चे आदि के  नाम  से सेव करेंगे। गेटवे ऑफ़ टेली में 
अकाउंट इन्फो पर एंटर प्रेस करे 
लेजर पर ऐरो की से सेलेक्ट कर एंटर प्रेस करें 
 नई विंडो में तीन ऑप्शन क्रिएट %डिसप्ले % अल्टर दिखाई देंगे।
इनमे से क्रिएट पर एंटर प्रेस करना है -

















नई विंडो  लेजर क्रिएशन ओपन   होगी  जिसमे लेजर  नाम 
जैसे  विकास   अंडर में  ग्रुप लिस्ट  से सेन्डरी  डेब्टर सेलेक्ट करें
ग्रुप की लिस्ट पहले से बनी होती है।
एंटर एंटर प्रेस करते हुए सेव  करें।

कीबोर्ड  में एसकेप बटन से ओपन विंडो से वापिस पिछली विंडो पर जा सकते है -
डिस्प्ले  ऑप्शन में  बने हुए लेजर को देख सकते है
अल्टर  ऑप्शन में हुए लेजर में बदलाव कर सकते है।

केश  और  प्रॉफिट एंड लॉस  खाते पहले ही  बने होते है।  









कोई टिप्पणी नहीं: